Sunday, 25 September, 2022

single post

  • Home
  • ‘नजर बट्टू’ या निम्बू-मिर्ची का टोटका क्या है?
'नजर बट्टू' या निम्बू-मिर्ची का टोटका क्या है?
Tone totke

‘नजर बट्टू’ या निम्बू-मिर्ची का टोटका क्या है?

Spread the love

‘नजर बट्टू’ या निम्बू-मिर्ची का टोटका क्या है? (What is ‘Nazar Battu‘ or Nimbu-Mirchi totka)

भारत में, एक दरवाजे के प्रवेश द्वार पर, हमारी कारों के अंदर, या किसी वाहन के पीछे सात मिर्च के साथ बंधा हुआ नींबू लटका हुआ होना एक आम दृश्य है। माना जाता है कि सात हरी मिर्च और एक नींबू को एक धागे में बांधकर दरवाजे के बाहर लटका दिया जाता है, जिससे देवी लक्ष्मी की बुरी बहन अलक्ष्मी की बुरी नजर दूर हो जाती है। अलक्ष्मी को अशुभ माना जाता है और माना जाता है कि यह दुख और दरिद्रता लाती है। कुछ खास दिनों में लोग पुराने को नए के साथ बदलते भी हैं।

पुराना रत्न धारण करने के नुकसान

निम्बू-मिर्ची टोटका के पीछे की कहानी

इस अंधविश्वास से जुड़ी एक कहानी है कि एक बार लक्ष्मी और अलक्ष्मी दोनों बहनें एक व्यापारी के घर आईं और उनसे पूछा कि दोनों कितनी सुंदर दिखती हैं। व्यापारी ने बहुत कूटनीतिक तरीके से स्थिति को संभाला। उसने उनमें से प्रत्येक को प्रणाम किया और उत्तर दिया “ज्येष्ठ (बड़ी बहन) अलक्ष्मी सुंदर दिखती है क्योंकि वह घर के अंदर से बाहर की ओर जाती है और कनिष्ठ (छोटी बहन) लक्ष्मी भी सुंदर दिखती है क्योंकि वह बाहर से अंदर घर में प्रवेश करती हुई दिखाई देती है। ।”

बुरी नजर दूर करने के 11 आसान उपाय (Easy way to remove evil eye )

इस प्रकार अलक्ष्मी जिसे गरीबी और दुख लाने के लिए माना जाता है, जब वह किसी व्यक्ति के घर को छोड़ती है और उसे दूर करने के लिए, निम्बू और मिर्च को प्रवेश द्वार के बाहर बांध दिया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार नींबू या निम्बू को ‘पित्त-शामक’ माना जाता है, जो क्रोध, जलन, और मिर्च को उनके गर्म स्वभाव से कम करने वाला माना जाता है, जो तामसिक / राजसिक हैं। तो अगर अलक्ष्मी मिर्च के सार का सेवन करती है, तो नींबू का गुस्सा भी कम होना तय है। ऐसे में वह घर छोड़ देगी।

natural ek mukhi rudraksha
Buy 1 face Rudraksha

एक अन्य मान्यता के अनुसार लक्ष्मी जहां भी जाती हैं, अलक्ष्मी साथ आती हैं। लक्ष्मी को प्रसाद के रूप में फल और मिठाइयाँ पसंद हैं, और इसलिए लक्ष्मी पूजा में देवी को मिठाई और फल चढ़ाकर उन्हें घर में रहने के लिए आमंत्रित किया जाता है। वहीं अलक्ष्मी को नींबू और मिर्ची जैसा खट्टा और मसालेदार खाना पसंद है। इसलिए यदि निम्बू और मिर्ची को घर के बाहर लटका दिया जाता है, तो अलक्ष्मी प्रसाद लेती हैं और घर के अंदर नहीं आती हैं। इस प्रकार अलक्ष्मी की बुरी नजर से छुटकारा पाने के लिए किसी भी प्रवेश द्वार के बाहर निम्बू मिर्ची बांधी जाती है। ऐसा माना जाता है कि नींबू और हरी मिर्च खाने के बाद अलक्ष्मी घर या दुकान में प्रवेश करने की इच्छा खो देती हैं। वह अपनी द्वेषपूर्ण नजर डाले बिना घूमेगी।

क्या रत्न एक्सपायरी डेट के साथ आते हैं? (Gemstones expire with time)

इस निम्बू मिर्ची उपाय को नज़र बट्टू के नाम से भी जाना जाता है। इसे हर शुक्रवार की रात बदल दिया जाता है और हर शनिवार की सुबह एक नया बांधा जाता है। पुराने नज़र बट्टू को घर या ऑफिस से कहीं दूर फेंक दिया जाता है ताकि बुराई को घर की लोकेशन का पता न चल सके।

वैज्ञानिक महत्व घर के बाहर लटकाए नींबू और मिर्च

इसके पीछे वैज्ञानिक मान्यता यह भी है कि जब हम मिर्च, नींबू जैसी चीजें देखते हैं तो उन्हें इसका स्वाद महसूस होने लगता है जिसके कारण वे इसे लंबे समय तक नहीं देख पाते हैं और तुरंत अपना ध्यान वहीं से हटा लेते हैं। या कि साइट्रस और मिर्च का तीखा स्वाद बुरी नजर वाले व्यक्ति की एकाग्रता भंग कर देता है।

Benefits of Blue Sapphire
Buy Certified Neelam Stone

यह भी माना जाता है कि नींबू मिर्च में कीटनाशक गुण होते हैं, इसके लटकने से वातावरण शुद्ध रहता है। इसके अलावा यह भी माना जाता है कि नींबू चारों ओर फैली नकारात्मक ऊर्जा को सोख लेता है और वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। साथ ही वास्तु शास्त्र के अनुसार जिस घर में नींबू का पेड़ होता है उस घर में नकारात्मक ऊर्जा नहीं रहती है, जिससे घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

अपने नाम के पहले अक्षर से जानिए अपनी राशि

आप अपने व्यवसाय को सुरक्षित रखने के लिए ईविल आई वार्डर की रक्षा के लिए धातु हरी मिर्च और नींबू का दरवाजा भी लटका सकते हैं। इस पारंपरिक बट्टू में मिर्च और निम्बस होते हैं जहाँ सात मिर्ची और निम्बू पीतल और हरे रंग से बने होते हैं।

नज़र बट्टू (निम्बू-मिर्ची टोटका) बनाने की विधि

7 हरी मिर्च और एक पका हुआ पीला नींबू लें। एक सुई और धागा लें, अधिमानतः काला धागा, अंत में एक मोटी गाँठ बाँधें, या एक काला पत्थर या लकड़ी का कोयला बाँधें। अब इसे पहले नींबू और फिर 7 हरी मिर्च में से छेद कर लें। ये पूरा बनने के बाद असा ही दिखना चाहिए जैसा की हमने चित्र में दिखाया है।

अब शनिवार की सुबह इसे अपने घर या अपने प्रतिष्ठान के मुख्य द्वार के ऊपर, बीच में बांध दें। इस बात का ध्यान रखें कि यह दरवाजे के खुलने और लोगों की अन्य गतिविधियों में हस्तक्षेप न करे।

natural certified ruby
Buy Natural Certified Ruby (Manik)

अब सोमवार की सुबह इसे उतारकर घर या ऑफिस से दूर सड़क किनारे कहीं फेंक दें। आमतौर पर घने बाजारों में इसे सड़कों पर फेंक दिया जाता है, जो इतनी अच्छी प्रथा नहीं है। इसलिए जब आप भीड़-भाड़ वाले बाज़ारों में जाएँ, तो नज़र बट्टू पर कदम रखने से पहले नज़र रखें।
और उस पर पैर न पड़े इस बात का ध्यान रखे।

 


Spread the love